HALDWANI UTTRAKHAND

बड़ी खबर…उत्तराखंड पुलिस की माओवाद के ताबूत में आखिरी कील,20000 का इनामी माओ नेता भास्कर पांडे गिरफ्तार

Summary

उत्तराखंड का सबसे वरिष्ठ माऊिस्ट लीडर भास्कर पांडे आज अल्मोड़ा पुलिस और एसटीएफ उत्तराखंड के ज्वाइंट एक्शन में गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ के अनुसार भास्कर पांडे 20000 का इनामी अपराधी था। 2017 के अल्मोड़ा और नैनीताल के लोक संपत्ति […]


उत्तराखंड का सबसे वरिष्ठ माऊिस्ट लीडर भास्कर पांडे आज अल्मोड़ा पुलिस और एसटीएफ उत्तराखंड के ज्वाइंट एक्शन में गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ के अनुसार भास्कर पांडे 20000 का इनामी अपराधी था। 2017 के अल्मोड़ा और नैनीताल के लोक संपत्ति अधिनियम और विधि विरुद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम के अंतर्गत तीन मुकदमे पंजीकृत थे। जिसमें वह फरार था। साथ ही पुलिस प्रशासन की ओर से शासन के लिए 50000 का इनाम बढ़ाने हेतु प्रस्ताव भेजा गया था।

भास्कर पांडे हल्द्वानी में एक कोरियर( जिसका नाम वह राजेश बता रहा था) को पेनड्राइव तथा कुछ लिखित मटेरियल देने जा रहा था। हल्द्वानी रेलवे स्टेशन के पास से उसे गिरफ्तार कर लिया गया । भास्कर पांडे इस दौरान किसान आंदोलन में भी काफी सक्रिय भूमिका निभा रहा था। पुलिस के अनुसार भास्कर पांडे खीम सिंह बोरा का सबसे खास साथी माना जाता है जिसे यूपी एसटीएफ ने पकड़ा था।
इस दौरान भास्कर पांडे द्वारा भारत में मोओवाद से संबंधित कई जगह ट्रेनिंग ली । साथ ही उसने अपने कई साथियों के साथ मिलकर यहां अपने क्रियाकलापों को अंजाम देने की कोशिश भी की।
भास्कर को उत्तराखंड का आखरी मोस्ट वांटेड माओवादी माना जा रहा है । भास्कर पांडे ने 2017 इलेक्शन में धारी तहसील में धारी तहसील की जीप जलाई थी।
इस उत्कृष्ट कार्य हेतु पुलिस महानिदेशक द्वारा टीम को 20000 का इनाम तथा मेडल की घोषणा की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *