DELHI

अमेरिकी ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड भारत से समेटेगी अपना कारोबार,कंपनी और उससे जुड़े डीलरों के हजारों कर्मचारियों के सामने रोजगार का संकट,4 साल में 3 अमेरिकी कम्पनियों ने उठाया ये कदम

Summary

नई दिल्लीअमेरिका की ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड मोटर कंपनी (Ford Motor Co.) ने भारत में अपना कारोबार समेटने का फैसला किया है। इससे कंपनी और उससे जुड़े डीलरों के हजारों कर्मचारियों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है। फेडरेशन […]

नई दिल्ली
अमेरिका की ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड मोटर कंपनी (Ford Motor Co.) ने भारत में अपना कारोबार समेटने का फैसला किया है। इससे कंपनी और उससे जुड़े डीलरों के हजारों कर्मचारियों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है। फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के आंकड़ों के मुताबिक फोर्ड के भारत में करीब 170 डीलर पार्टनर हैं जो पूरे देश में 400 शोरूम चलाते हैं। इनमें हजारों कर्मचारी काम करते हैं।

इनमें से कई डीलर तो ऐसे हैं जो 5 महीने पहले ही फोर्ड से जुड़े थे। उन्होंने शोरूम बनाने में करोड़ों रुपये खर्च किए थे लेकिन अमेरिकी कंपनी की विदाई से उनका निवेश बर्बाद हो जाएगा। फोर्ड की घोषणा के बाद कई डीलरों ने अपने कर्मचारियों की छंटनी भी शुरू कर दी है। एमएसएमई (MSME) इंडस्ट्री से जुड़े संगठनों का कहना है कि फोर्ड के जाने से कई छोटे सप्लायर्स प्रभावित होंगे। इससे हजारों नौकरियों पर खतरे की तलवार लटक रही है।

3 अमेरिकी कंपनियां समेट चुकी हैं कारोबार..

पिछले 4 साल में अमेरिका की 3 ऑटो कंपनियां भारत से अपना कारोबार समेट चुकी हैं। इससे पहले जनरल मोटर्स (General Motors) और हार्ले डेविडसन (Harley Davidson) भी भारत को अलविदा कह चुकी हैं। कंसोर्टियम ऑफ इंडियन एसोसिएशंस (Consortium of Indian Associations) के कन्वीनर केई रघुनाथन ने कहा कि केवल फोर्ड ही बंद नहीं हो रही है बल्कि 4,000 से अधिक छोटी कंपनियां बंद हो रही हैं।

चेन्नई के जिस इलाके में फोर्ड के दो प्लांट हैं, वहां पूरी कम्युनिटी इससे जुड़ी है। इससे हजारों लोगों को इनडायरेक्ट जॉब मिला हुआ है। हालांकि फोर्ड इंडिया ने ईटी से कहा कि वह अपने डीलरों का पूरा ध्यान रख रही है। सर्विस, वारंटी और पार्ट्स सेल्स के जरिए डीलरों का बिजनस चलता रहेगा। फोर्ड के प्रवक्ता ने ईटी के एक ईमेल के जवाब में कहा कि अगले 60 दिन में उनके बिजनस को सेल्स एंड सर्विस से पार्ट्स एंड सर्विस सपोर्ट में बदलने की योजना को अंतिम रूप दे देंगे और फिर हरेक के साथ व्यक्तिगत चर्चा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *