Top Stories:
DELHI

सावधान .. संक्रमण का ये नया ट्रेंड नए वैरिएंट की दस्तक तो नहीं! वैक्सीन की डबल डोज के बाद भी एक ही जिले में 5 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजीटिव मिलने से हड़कंप, राज्य के इस जिले का मामला आपके लिए मैसेज

Summary

दिल्ली: देश में वैक्सीनेशन अभियान के बावजूद कोविड की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वैरिएंट जानलेवा साबित हो रहा है, तो पूर्वोतर और दक्षिण के केरल राज्य में कोरोना संक्रमण सकते में डाल रहा […]

दिल्ली: देश में वैक्सीनेशन अभियान के बावजूद कोविड की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वैरिएंट जानलेवा साबित हो रहा है, तो पूर्वोतर और दक्षिण के केरल राज्य में कोरोना संक्रमण सकते में डाल रहा है। केरल में तो नए तरह के खतरे ने केन्द्र से लेकर राज्य सरकार की चिन्ता बढ़ा दी है। राज्य में सिर्फ एक ही जिले में वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद 5 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजीटिव मिलने से हड़कंप मच गया है।

वैक्सीन की डबल डोज के बाद भी एक ही जिले में 5 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजीटिव


दरअसल केरल में कोरोना संक्रमण का एक नया ट्रेंड देखने को मिल रहा है।राज्य के 9 जिलों में डबल डोज ले चुके कई लोग कोरोना पॉजीटिव मिल रहे हैं। केरल के पथनमथिट्टा (Pathanamthitta) जिले में सिंगल डोज लेने चुके 14,974 लोग जबकि डबल डोज लेने वाले 5042 लोग कोविड पॉजीटिव मिल चुके हैं। केरल की विजयन सरकार और स्वास्थ्य महकमे के हाथ पाँव फूल रहे हैं इस ख़तरनाक ट्रेंड के बाद क्योंकि अब तक राज्य में 40 हजार से ज्यादा ब्रेकथ्रू इंफ़ेक्शन (टीके के बाद संक्रमण का शिकार हो जाना) के मामले आ चुके हैं।


कोरोना के नए वैरिएंट की दस्तक तो नहीं?

केरल के इस नए ट्रेंड के बाद चिन्ता इसी बात को लेकर है कि कहीं यही भारत में नए वैरिएंट की दस्तक तो नहीं है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को ऐसे तमाम मामलों की जीनोम सीक्वेंसिंग कर नए वैरिएंट को लेकर आशंका का पड़ताल करन को कहा है।
ज्ञात हो कि केरल में मौजूदा कोविड संक्रमण दर 14.73 फीसदी हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *